in

मैं बटूआ नहीं लाया

‘संसद में सांसदों के लिए कैंटीन में नया मेन्यू’

भिखारी (नेता से): भगवान के नाम पर खाने को कुछ पैसे दे दो साहब जी…
नेता: मैं बटूआ नहीं लाया।

भिखारी: कम से कम अपनी कैंटीन का मेन्यू ही सुना दो!

Advertisements

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

Comments