Advertisements

बिहार में कोरोना के 6 नये मरीज़, अब कुल संक्रमित 21 और 5387 लोग संदिग्ध

Byomkesh Bakshi: Ep#16 Vansh Ka Khoon

IMPROVEMENTO.com - Boost Your Test Preparation. Watch Byomkesh Bakshi's sixteenth episode 'Vansh Ka Khoon'. Byomkesh Bakshi is a fictional detective in Bengali literature created...

कोरोना जाने वाला नहीं, इसके साथ जीना सीखना पड़ेगा- सीएम केजरीवाल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक न्यूज चैनल से बातचीत कर कोरोना वायरस के लिए दिल्ली के प्रयासों को बताया। सीएम...

बिहार में कोरोना संक्रमण का सबसे बड़ा जरिया बने प्रवासी

बिहार (Bihar) को पूरी तरह कोरोना महामारी (Corona epidemic) ने अपनी चपेट में ले लिया है.राज्य के सभी 38 जिले कोरोना वायरस...

ट्रेन टिकेट के बुकिंग के लिए मारामारी, बिहार की ट्रेनों में केवल कुछ ही सीटें खाली

रेल सेवा के 12 मई से शुरू होने के साथ ही टिकट बुकिंग (Ticket Booking) को लेकर मारामारी मच गई है.15 रूटों...

आर्थिक पैकेज : प्रवासियों को 2 माह तक मिलेगा मुफ्त राशन, 83 फीसदी राशन कार्ड धारक ‘वन नेशन – वन राशनकार्ड’ के दायरे में

कोरोना वायरस की महामारी के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज को लेकर वित्त मंत्री...

बिहार राज्य में कोरोना वायरस पाॅजिटिव मरीजों की संख्या में मंगलवार को अचानक छह का इजाफा हो गया. पाॅजिटिव मरीजों में गोपालगंज के एक, गया के एक और चार सीवान जिले के पाये गये हैं. स्वास्थ्य विभाग ने इसकी पुष्टि की है. इनमें राजेंद्र मेमोरियल रिसर्च इंस्टीच्यूट आरएमआरआइ में दो और इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान की जांच रिपोर्ट में चार पाजिटिव मरीज पाये गये हैं. इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना पाॅजिटिव की संख्या 16 से बढ़ कर 21 हो गयी है.

छह कोरोना पाॅजिटिव मरीजों में गोपालगंज और गया के एक-एक तथा सीवान जिले के चार पाये गये हैं. प्रदेश में कोरोना संक्रमण से पीड़ित जिलों में गया और गोपालगंज का भी नाम जुड़ गया है. पीड़ित जिलों की संख्या नौ पहुंच गयी है. खास यह कि गया जिले के मूल निवासी जिस युवक में कोरोना पाॅजिटिव पाया गया है, वह मुंगेर के नेशनल अस्पताल में आइसीयू का वरिष्ठ कर्मी है.

इसी अस्पताल में कोरोना से मृत युवक का प्रारंभिक इलाज किया गया था. इसके साथ मुंगेर जिले में पांच, पटना जिला में पांच, नालंदा जिला में एक, सीवान जिला में पांच, लखीसराय जिला में एक, बेगूसराय जिला में एक,सहरसा जिला में दो और गोपालगंज में एक नये मरीज की रिपोर्ट मिली है. जिनमें तीन मरीजों का इलाज के बाद जांच रिपोर्ट निगेटिव पाये जाने के बाद उन्हें घर भेज दिया गया है.

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि मंगलवार को राज्य में कोरोना संक्रमण के कुल 208 संदिग्ध मरीजों की भर्ती करायी गयी है. अब तक राज्य में भर्ती संदिग्ध मरीजों की संख्या कुल 817 हो गयी है. इसमें से तीन को आइसीयू में भर्ती कराया गया है.

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव ने बताया कि राज्य में कुल 5387 लोगों को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है. इसमें सारण क्षेत्र में सबसे अधिक लोग ऑब्जर्वेशन में रखे गये हैं जिसमें सीवान, सारण और गोपालगंज जिले शामिल हैं. उन्होंने बताया कि सर्वाधिक 3105 लोग सीवान जिले में ऑब्जर्वेशन में रखे गये हैं. ऑब्जर्वेशन में रखे गये लोगों की दूसरी बड़ी संख्या सारण जिले में है जहां पर अब तक 425 लोगों को निगरानी में रखा गया है.

गोपालगंज जिले में वर्तमान में 390 लोगों को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है. इसके अलावा अररिया में (दो), औरंगाबाद में (55), सीतामढ़ी में (सात), सारण (425), भागलपुर (135), सुपौल (सात), मधुबनी (95), मधेपुरा (17), भोजपुर (81), गया (135), सीवान (3105), गोपालगंज (390), पटना (107), पूर्वी चंपारण (70), पश्चिम चंपारण (74), किशनगंज (25), मुजफ्फरपुर (173), रोहतास (13), समस्तीपुर (105), वैशाली (छह), दरभंगा (28), पूर्णिया (तीन), कटिहार (तीन), नवादा (43), बेगूसराय (सात) नालंदा (206), बक्सर (पांच), मुंगेर (18), अरवल (एक), जहानाबाद (20), कैमूर (12), बांका (चार), लखीसराय (एक), शिवहर (चार) और सहरसा (पांच) को ऑब्जर्वेशन में रखा गया है. इसमें से 327 लोगों ने अपना 14 दिनों का ऑब्जर्वेशन का समय पूरा कर लिया है.

Advertisements

लोकप्रिय