Advertisements

कोरोना से लड़ने में कितना कारगर है योग और आयुर्वेद , क्या कहते है योगगुरु बाबा रामदेव

आर्थिक पैकेज : प्रवासियों को 2 माह तक मिलेगा मुफ्त राशन, 83 फीसदी राशन कार्ड धारक ‘वन नेशन – वन राशनकार्ड’ के दायरे में

कोरोना वायरस की महामारी के चलते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा घोषित 20 लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज को लेकर वित्त मंत्री...

पटना में एक साथ मिले 8 कोरोना पॉजिटिव, बिहार का आंकड़ा पहुंचा 136

सिर्फ पटना में आज 8 पॉजिटिव केस मिले हैं।राजधानी में कोरोना पॉजिटिव केस अब नए इलाकों से सामने आ रहा है।अब तक...

Byomkesh Bakshi: Ep#1- Satyanveshi

IMPROVEMENTO.com - Boost Your Test Preparation. Watch Byomkesh Bakshi's first episode Satyanveshi which starts with Bakshi taking up his first case. Byomkesh Bakshi is a...

पटना में अब किताब की दूकान और रेस्टुरेंट खुलेगी

देश में लॉक डाउन के बाद देश की अर्थववस्था बुरी तरह प्रभावित हुआ है जिसके बाद फिर से देश की अर्थववस्था को...

कोरोना वायरस और उससे होने वाली बीमारी कोविड-19 से पूरे देश-दुनिया में हाहाकार मचा है| पूरे विश्व में करीब पौने तीन लाख लोग इससे प्रभावित हो रहे है| हालाँकि भारत में इसके फैलने की दर काफी धीमी है लेकिन पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 50 नए केस भारत में दर्ज किये गए है| जानकारों का मानना है कि अभी भारत में यह समस्या सामुदायिक स्तर पर नहीं फैला है लेकिन ऐसा हो गया तो इस बीमारी से निपटना काफी मुश्किल होगा| जैसा कि कोरोना वायरस का अभी तक कोई इलाज़ नहीं मिला है, इससे रोकथाम और जागरूकता सर्वाधिक महत्वपूर्ण है| इसी बीच योगगुरु बाबा रामदेव का दावा है कि आयुर्वेद और योग द्वारा कोरोना वायरस से संबंधित रोग को फैलने से रोका ही नहीं जा सकता बल्कि क्योर किया जा सकता है| आइये जानते है कि कोरोना के बारे में क्या कहते है योगगुरु बाबा रामदेव:

गिलोय, तुलसी, अदरक, हल्दी और काली मिर्च लड़ने में सक्षम है कोरोना से
योगगुरु का कहना है कि गिलोय, तुलसी, अदरक, हल्दी और काली मिर्च को पीस कर सुबह शाम पीने से कोरोना का रोकथाम किया जा सकता है| इन पदार्थो को कूटकर 400 ग्राम पानी मे लेकर पकाने और 100 ग्राम बच जाने पर उपयोग किया जा सकता है| इनका मानना है कि जिन व्यक्तियों को कोरोना है वह दिन में पांच-सात बार इसका उपयोग कर कोरोना को हरा सकते है| बाहर से लौटे व्यक्तियों के लिए भी इनका यही कहना है|

दरअसल गिलोय रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ने में काफी करगर है और इसके साथ तुलसी, काली मिर्च, हल्दी और अदरक सर्दी, जुकाम समेत अनेक रोगों से लड़ने में कारगर है| यह कोरोना से उत्पन्न सभी लक्षण से लड़ने और कोरोना वायरस को नष्ट करने में सक्षम है|

कोरोना से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना है जरुरी
योगगुरु के अनुसार कोरोना से होने वाले मौत से बचने के लिए रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाना जरुरी है| कोरोना का सबसे अधिक घातक प्रभाव उन्हीं पर होता है जिनकी इम्यून सिस्टम कमजोर है| जहाँ इससे बहुत से मृत्यु हो चुकी है वहीँ काफी अधिक लोग संक्रमण के बाद भी पूरी तरह स्वस्थ्य हो चुके है| ऐसे में यदि रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा लिया जाए तो कोरोना के प्रभाव से बचा जा सकता है| रोगप्रतिरोधक क्षमता बढाने में गिलोय के साथ अश्वगंधा, शतावर, सफ़ेद मुसली, आंवला, शिलाजीत आदि लेना काफी कारगर है|

योगगुरु रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने हेतु योग एवं प्राणायाम को काफी अधिक महत्व देते है| उनका मानना है कि यदि नियमित तौर पर कपालभाती, अनुलोम विलोम, भ्रामरी, उद्गीत और उज्जायी प्राणायाम किया जाए तो इम्यून सिस्टम पूरा मजबूत हो जाता है और इससे कोरोना समेत कई रोगों से बचा जा सकता है| कोरोना के रोकथाम हेतु अधिकतम समय प्राणयाम किया जाना चाहिए|

इस लेख में आपने कोरोना के रोकथाम और इलाज़ से संबंधित योगगुरु बाबा रामदेव के विचारों को पढ़ा| इससे संबंधित विचार आप कमेंट के माध्यम से साझा कर सकते है| यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इसे साझा करें|

Advertisements

लोकप्रिय