Advertisements
Home स्वास्थ्य COVID-19: ब्रिटिश-अमेरिकन कंपनी तंबाकू की पत्तियों से बना रही है वैक्सीन, ह्यूमन...

COVID-19: ब्रिटिश-अमेरिकन कंपनी तंबाकू की पत्तियों से बना रही है वैक्सीन, ह्यूमन ट्रायल जल्द

Advertisements
ब्रिटेन में तंबाकू से वैक्सीन बनाई जा रही है. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

ब्रिटेन में तंबाकू से वैक्सीन (Coronavirus Vaccine From Tobbaco) बनाई जा रही है और अब इस वैक्सीन का बहुत जल्द ही ह्यूमन ट्रायल (Human Trial) होने जा रहा है.

वाशिंगटन. ब्रिटेन में तंबाकू से वैक्सीन (Coronavirus Vaccine From Tobbaco) बनाई जा रही है और अब इस वैक्सीन का बहुत जल्द ही ह्यूमन ट्रायल (Human Trial) होने जा रहा है. ब्रिटिश अमेरिकन टोबैको नाम की कंपनी की सब्सडियरी कंपनी केंटकी बायोप्रोसेसिंग (Kentucy Bioprocessing) ने तीन महीने पहले अप्रैल में यह कहा था कि वह एक प्रायोगिक कोविड-19 वैक्सीन बनाने की दिशा में काम कर रही है. आपको मालूम हो कि यह वैक्सीन तंबाकू से बनाई जा रही थी. अब कंपनी ने कहा कि वह जल्द ही इसका इंसानी परीक्षण यानी ह्यूमन ट्रायल करने जा रही है.

कंपनी ने वैक्सीन के इंसानी ट्रायल की मांगी है अनुमति

ब्रिटेन की राजधानी लंदन में स्थित सिंगरेट बनाने वाली कंपनी लकी स्ट्राइक सिगरेट के चीफ मार्केटिंग ऑफिसर किंग्सले व्हीटन ने कहा कि कंपनी अमेरिका के फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन से ह्यूमन ट्रायल की अनुमति की अर्जी डाल चुकी है. कंपनी को यह अनुमति कभी भी वक्त मिल सकती है. अनुमति मिलने के तत्काल बाद इस वैक्सीन का इंसानी ट्रायल शुरू किया जाएगा.

तंबाकू की पत्तियों से निकाले गए प्रोटीन से वैक्सीन का निर्माणइस कंपनी का दावा है कि वह तंबाकू की पत्तियों से निकाले गए प्रोटीन से वैक्सीन तैयार कर चुकी है. किंग्सले व्हीटन ने कहा कि हमें पूरी उम्मीद है कि हमें इंसानी परीक्षण के लिए अनुमति मिल जाएगी. ताकि हम लोगों को कोरोना वायरस महामारी से बचा सकें. हमारी वैक्सीन ने प्री-क्लीनिकल ट्रायल में कोविड-19 के खिलाफ काफी पॉजिटिव रिस्पॉन्स मिला है.

जेनेटिक इंजीनियरिंग के जरिये बनाया जा रहा है वैक्सीन

लकी स्ट्राइक सिगरेट कंपनी का दावा है कि हम जिस तरीके से वैक्सीन बना रहे हैं वह दूसरों से बिल्कुल अलग है. हमने तंबाकू के पौधे से प्रोटीन निकालकर उसे कोविड-19 वैक्सीन के जीनोम के साथ मिक्स कराया है, जिससे हमारी वैक्सीन तैयार हुई है. हमने कुछ जेनेटिक इंजीनियरिंग की है.

ये भी पढ़ें: अमेरिका कोरोना वायरस वैक्सीन पर 2.1 अरब डॉलर और खर्च करेगा

नेपाल के विदेश मंत्री बोले- एशिया का भविष्य चीन-भारत के रिश्तों पर निर्भर

अमेरिका कोरोना वैक्सीन पर अभी 2.1 अरब डॉलर और खर्च करेगी

वहीं अमेरिका को कोविड-19 के 10 करोड़ प्रयोगात्मक टीकों की आपूर्ति की घोषणा दवा कंपनी ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन (GlaxoSmithKline) और सनोफी पैस्टर (Sanofi Pasteur) ने की है. अमेरिकी सरकार इसके लिए करीब 2.1 अरब डॉलर की राशि खर्च करेगी. यह खर्च वह इस उम्मीद में करेगी कि इससे कुछ फायदा होगा.



Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

कोरोना से ठीक होने की दर बढ़कर 67.19 फीसदी हुई, मृत्यु दर में आई कमी

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर कहीं भी, कभी भी। *Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200 ख़बर सुनें ख़बर सुनें केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने...

महाराष्ट्र में भीषण बारिश, उखड़े पेड़, पानी से लबालब अस्पताल, पीएम मोदी ने लिया संज्ञान

नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated: 05 Aug 2020, 11:17:17 PM IST महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों (Coronavirus Latest News in Maharashtra) के बीच एक...