Advertisements
Home राज्यवार मुंबई वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर मेट्रो चलाने की तैयारी तेज

वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर मेट्रो चलाने की तैयारी तेज

Advertisements
मुंबई
मुंबई में वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे पर मेट्रो दौड़ाने का समय निर्धारित करने के बाद मुंबई महानगर प्रदेश विकास प्राधिकरण (एमएमआरडीए) ने अपनी तैयारी तेज कर दी है। मई 2021 तक सेवा शुरू करने के लिए मेट्रो मार्ग के साथ स्टेशन निर्माण कार्य की भी गति बढ़ा दी गई है। मेट्रो 7 कॉरिडोर के स्टेशनों पर उपकरण लगाने के काम की शुरुआत कर दी गई है। मार्ग के 6 स्टेशनों पर करीब 20 एस्केलेटर लगाने का काम पूरा कर लिया गया है। बाणडोंगरी स्टेशन पर 5 एस्केलेटर, एमएम और नैशनल पार्क स्टेशन पर 4-4 एस्केलेटर, आरे स्टेशन पर 2, मागाठाणे स्टेशन पर 4 और पठानवाडी मेट्रो स्टेशन पर 1 एस्केलेटर लगया गया है। अंधेरी (पूर्व) से दहिसर (पूर्व) के बीच मेट्रो 7 कॉरिडोर का निर्माण हो रहा है।

हर स्टेशन पर 6 से 8 एस्केलेटर
मेट्रो 7 के मार्ग पर कुल 13 स्टेशनों का निर्माण कार्य चल रहा है। स्टेशनों के करीब 74 प्रतिशत तक निर्माण कार्य भी पूरा किया जा चुका है। मार्ग के 13 स्टेशनों पर कुल 82 एस्केलेटर लगाए जाएंगे। इसमें से अंधेरी (पूर्व), जेवीएलआर जंक्शन, महानंदा, आरे, पठानवाडी, बाणडोंगरी, महिंद्रा ऐंड महिंद्रा, मागाठाणे, देवीपाडा, नैशनल पार्क और ओवरी पाड़ा स्टेशनों पर 6 एस्केलेटर लगाए जाएंगे। शंकर नगर और पुष्पा पार्क स्टेशन पर 8 एस्केलेटर लगाए जाएंगे। अब तक 20 एस्केलेटर लगाने का काम पूरा किया जा चुका है।

80 प्रतिशत काम पूरा
एमएमआरडीए के अनुसार, पूरे कॉरिडोर का 80 प्रतिशत से अधिक का काम पूरा किया जा चुका है। मार्ग में 673 पिलर का काम पूरा किया जा चुका है, जबकि 56 पिलर का काम चल रहा है। मेट्रो का करीब 85 प्रतिशत तक मार्ग तैयार किया जा चुका है। मेट्रो सेवा शुरू करने के साथ ही प्राधिकरण ने मेट्रो ट्रेन के ट्रायल शुरू करने की भी तारीख निर्धारित कर दी है। अगले साल जनवरी के मकर संक्रांति के दिन से ट्रायल की शुरुआत की जाएगी।

दिसंबर में आएगा कोच
मेट्रो कोच का निर्माण कार्य बैंगलुरू में चल रहा है। एमएमआरडीए कमिश्नर आर.ए राजीव के अनुसार, दिसंबर में मेट्रो का पहला ट्रेन सेट मुंबई पहुंच जाएगा। उसके बाद हर महीने करीब 2 ट्रेन सेट बैंगलुरू से मुंबई आएंगे। मई तक 10 ट्रेन सेट मुंबई में उपलब्ध होंगे। 10 ट्रेन के साथ मई से सेवा की शुरुआत होगी। मई के बाद भी हर महीने एक या दो ट्रेन सेट के आने का सिलसिला जारी रहेगा। नई ट्रेन के आने के बाद उनको भी सेवा में शामिल किया जाएगा।

सड़क से कम होंगे वाहन
वेस्टर्न एक्सप्रेस हाइवे को ट्रैफिक मुक्त करने के लिए मेट्रो 7 और मेट्रो 2 ए कॉरिडोर का निर्माण किया जा रहा है। प्राधिकरण के अनुसार, मेट्रो 7 और 2 ए की सेवा शुरू होने के बाद हाइवे के वाहनों की संख्या में करीब 30 से 40 प्रतिशत तक की कमी होगी। आरामदायक सेवा उपलब्ध होने के कारण लोग अपने वाहनों के बजाय मेट्रो से सफर करना पसंद करेंगे।

Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

शिक्षा मंत्रालय ने कुलपति के फैसलों को पलटा, कार्यकारी कुलपति बहाल

जागरण संवाददाता, नई दिल्ली : दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) में कुलसचिव की नियुक्ति को लेकर जारी विवाद में बृहस्पतिवार को केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय भी...

बिहार चुनाव 2020: रिश्तों पर भारी सियासत, सास-बहू, देवरानी-जेठानी में टक्कर

पटना: आम तौर पर चुनाव के पूर्व सत्ता तक पहुंचने की महत्वकांक्षा में नेताओं का दल बदलकर 'निजाम' बदलने की परंपरा पुरानी है, लेकिन...