Advertisements
Home राज्यवार दिल्ली Kisan Rail: किसानों की आय के साथ लोगों की तंदरुस्ती बरकरार रखेगी...

Kisan Rail: किसानों की आय के साथ लोगों की तंदरुस्ती बरकरार रखेगी ‘किसान रेल’

Advertisements
Publish Date:Mon, 21 Sep 2020 08:03 AM (IST)

नई दिल्ली [सोनू राणा]। Kisan Rail: अब दिल्ली-एनसीआर व आसपास के राज्यों के लोग अनंतपुर की ताजा सब्जियों व फलों का लुत्फ उठा पाएंगे, क्योंकि अब ट्रेन की सहायता से आंध्र प्रदेश के अनंतपुर के किसान दिल्ली के आदर्श नगर रेलवे स्टेशन तक मात्र तीस घंटे में ही सब्जियां व फल पहुंचा सकेंगे। इससे फलों की ताजगी भी बरकरार रहेगी और सब्जियां खराब भी नहीं होंगी। पहले अनंतपुर से आजादपुर मंडी ट्रक से सामान लाने में करीब पांच दिन लग जाते थे। सरकार की ओर से किसानों की आय बढ़ाने और उपज का उचित मूल्य दिलाने के लिए यह ट्रेन चलाई गई है।

भारतीय रेलवे ने अनंतपुर और नई दिल्ली के बीच किसान ट्रेन चलाई है। यह देश की तीसरी और दक्षिण भारत की दूसरी किसान ट्रेन है। पहली किसान रेल की शुरुआत सात अगस्त को महाराष्ट्र स्थित नासिक के देवलाली से बिहार के दानापुर के लिए की गई थी। 11 सितंबर को आजादपुर मंडी का दौरा करने वालों का कहना है कि ‘किसान रेल’ से बड़े किसानों के साथ ही छोटे किसानों को भी फायदा होगा। क्योंकि किसानों का माल अगर थोड़ा है तो भी वे ट्रेन के जरिये उसे दिल्ली ला सकेंगे।

अनंतपुर के किसान श्रीनिवास व महेश बाबू ने फोन पर बताया कि उन्हें ‘किसान रेल’ के चलने से काफी फायदा हो रहा है। महेश 2.6 टन पपीता व 2.5 टन टमाटर और श्रीनिवास 10 टन केला लेकर आजादपुर मंडी पहुंचे थे। महेश ने बताया कि उनको आजादपुर मंडी में बेचकर आए सामान का पैसा मिल चुका है। उन्होंने बताया कि कभी ट्रक खराब हो जाता था तो सब्जी-फल दिल्ली पहुंचाने में हफ्ता भर लग जाता था। अब ट्रेन से दो दिन से कम समय में सामान मंडी पहुंच रहा है।

आज दोपहर आदर्श नगर रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी

‘किसान रेल’ अनंतपुर से रविवार सुबह नौ बजे चली तीसरी किसान ट्रेन सोमवार दोपहर यानी 21 सितंबर को आदर्श नगर रेलवे स्टेशन पर पहुंचेगी। इस बार अंगूर, पपीता, बैंगन, केला व नारियल सहित करीब तीन सौ टन से अधिक फल व सब्जियां ‘किसान रेल’ से आएंगी। इससे पहले 11 सितंबर को करीब 292 टन फल व सब्जियां यहां पहुंची थीं।

रामबरन (सदस्य, दिल्ली कृषि विपणन बोर्ड) के मुताबिक, इस बार ‘किसान रेल’ के डिब्बों में लकड़ी के खांचे बनाए जा रहे हैं, ताकि फल व सब्जियों को हवा लगती रहे। इससे सामान खराब भी नहीं होगा और इनकी ताजगी भी बनी रहेगी। पिछली ट्रेन में कुछ टमाटर खराब होने की बात सामने आई थी, जिसके मद्देनजर ऐसा किया जा रहा है। 

आदिल अहमद खान (चेयरमैन, एपीएमसी, आजादपुर मंडी) का कहना है कि सरकार को किसानों के फलों व सब्जियों का बीमा करवाना चाहिए। क्योंकि 11 सितंबर को आई ‘किसान रेल’ में किसानों की करीब 30 फीसद सब्जियां खराब हो गई थीं। इससे किसानों को काफी नुकसान उठाना पड़ा था।

Coronavirus: निश्चिंत रहें पूरी तरह सुरक्षित है आपका अखबार, पढ़ें- विशेषज्ञों की राय व देखें- वीडियो

Posted By: JP Yadav

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

Micromax In सीरीज़ होगी MediaTek Helio G35 और G85 प्रोसेसर से लैस

Micromax की वापसी In Series के साथ 3 नवंबर को होने वाली है। कंपनी इस सीरीज़ के तहत कई स्मार्टफोन लॉन्च करने की...