Advertisements
Home क्राइम Indrakant tripathi mahoba: हत्या के पहले बातचीत के 5 ऑडियो वायरल, लेनेदेन...

Indrakant tripathi mahoba: हत्या के पहले बातचीत के 5 ऑडियो वायरल, लेनेदेन से लेकर धमकी तक के सबूत!

Advertisements

हाइलाइट्स:

  • महोबा में मारी गई थी क्रशर कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी की गोली
  • इंद्रकांत के आरोप पर महोबा के तत्कालीन एसपी को 24 घंटे पहले ही किया गया था सस्पेंड
  • कारोबारी के गले में लगी थी गोली, इलाज के दौरान हो गई थी मौत
  • मरने के पहले बातची के 5 ऑडियो सोशल मीडिया में वायरल हो रहे हैं
  • कारोबारी कथित रूप से डीएम और एसपी को 5-5 लाख रुपये और दूसरों के 5 लाख रुपये देने का लगा रहा आरोप

महोबा
उत्तर प्रदेश के महोबा में क्रशर कारोबारी इंद्रकांत त्रिपाठी को गोली मार दी गई थी। उनकी मौत के बाद मंगलवार को सोशल मीडिया पर पांच ऑडियो वायरल हुए हैं। इन ऑडियो ने व्यवसायी की हत्या का रहस्य गहरा दिया है। पुलिस ऑडियो क्लिप का सत्यापन करवा रही है।

व्यवसायी के आरोप लगाने के बाद योगी सरकार ने महोबा के एसपी मणिलाल पाटीदार को भ्रष्टाचार के आरोप में निलंबित कर दिया गया था। एसपी के निलंबित होने के 24 घंटे के अंदर इंद्रकांत को गोली मार दी गई थी। वह अपनी कार के अंदर मिले थे, उनकी गर्दन में एक गोली लगी थी। बाद में इलाज के दौरान कारोबारी की मौत हो गई थी।

UP पुलिस पर ‘दाग’ बने आईपीएस मणिलाल पाटीदार, वसूली की रकम न देने वाले महोबा के व्यापारी की मौत

पांच ऑडियो में इनसे हुई बात
बुंदेलखंड में पत्थर खनन को लेकर राजनेताओं, पुलिस और जिला प्रशासन से जुड़े रैकेट के धंधे की जानकारी देने के वाले चार टैप वायरल हुए हैं। पहली बातचीत एक व्यापारी, एक स्थानीय विधायक और अज्ञात व्यक्तियों के बीच है, जबकि पांचवीं त्रिपाठी के चचेरे भाई, बृजेश शुक्ला और एक अपराधी, आशु भदौरिया के बीच है।

महोबा कांड की जांच के लिए एसआईटी गठित, एक हफ्ते में देगी रिपोर्ट
ऑडियो में रिश्वत देने की बात
एक ऑडियो में, एक आवाज सुनाई देती है। यह आवाज कथित रूप से इंद्रकांत त्रिपाठी की बताई जा रही है। वह कहते सुनाई दे रहे हैं, ‘एसपी और डीएम की मांग एक ही है। दोनों 5-5 लाख रुपये मांग रहे हैं और अन्य को 5 लाख रुपये चाहिए।’ उसी ऑडियो में, अज्ञात कॉलर को यह कहते हुए सुना जाता है कि उसने जून और जुलाई में एसपी को 6 लाख रुपये का भुगतान किया था, लेकिन जब प्रशासन ने पत्थर-खनन के काम को रोक दिया गया तो उन्हें नुकसान हो गया।

IPS मणिलाल पाटीदार चलाते थे उगाही का गिरोह, एफआईआर नहीं, सिर्फ हुए सस्पेंड

एसपी ने कहा कराया जा रहा सत्यापन
एक अन्य ऑडियो में की आवाज त्रिपाठी की बताई जा रही है। इसमें वह अपने एक सहकर्मी से कहते हुए सुनाई दे रहे हैं, ‘मैं पहली बार एसपी महोबा से मिला और उनसे कहा, ‘मैं आपके संरक्षण में रह रहा हूं। आप जो कहेंगे वह किया जाएगा।’ उसी ऑडियो में एक असत्यापित आवाज है। वह कह रहा है कि वह एसपी को रिश्वत देने के लिए कभी नहीं मिला, लेकिन एक सूनसान स्थान पर उनके गुर्गों को रकम सौंपी थी। महोबा के एसपी के रूप में पदभार संभालने वाले अरुण श्रीवास्तव ने कहा कि ऑडियो टेप का सत्यापन किया जा रहा है।

Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

VIDEO: इस जगह बना सुशांत सिंह राजपूत का पहला वैक्स स्टैच्यू, इमोशनल हुए फैन्स

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत का 14 जून को निधन हो गया था। सीबीआई से लेकर ईडी (प्रवर्तन निदेशालय) और एनसीबी (नारकोटिक्स कंट्रोल...