Advertisements
Home कोरोना वायरस पहली बार देश में मृत्युदर में गिरावट, मरीजों को बेहतर इलाज दिलाने...

पहली बार देश में मृत्युदर में गिरावट, मरीजों को बेहतर इलाज दिलाने से हालात सुधर रहे

Advertisements

कोरोना वायरस (प्रतीकात्मक तस्वीर)
– फोटो : PTI

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

पहली बार देश में कोरोना संक्रमण से मृत्युदर में गिरावट आई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, मृत्युदर 2.5 फीसदी से कम दर्ज की गई है। शनिवार तक 26,816 लोगों की मौत हो चुकी है। संक्रमित मरीजों की संख्या 10.77 लाख से भी अधिक है। 

मंत्रालय ने रविवार को बताया, कोरोना से होने वाली मौतों की दर 2.49 फीसदी रिकॉर्ड की गई है। मंत्रालय के अनुसार 29 प्रदेश ऐसे हैं जहां मृत्युदर राष्ट्रीय औसत से कम है। इनमें से पांच राज्यों में मृत्युदर शून्य है। 14 राज्यों में एक फीसदी से भी कम है। मंत्रालय का कहना है कि संक्रमित मरीजों को बेहतर उपचार दिलाने में राज्य कामयाब हो रहे हैं। इसी वजह से हर दिन मृत्युदर में गिरावट आ रही है। 

मंत्रालय के अनुसार, मणिपुर, नगालैंड, सिक्किम, मिजोरम और अंडमान निकोबार द्वीप समूह में एक भी मौत नहीं हुई है। लद्दाख 0.09, त्रिपुरा 0.19,असम 0.23, दादरा और नगर हवेली 0.33, केरल 0.34,  छत्तीसगढ़ 0.46, अरुणाचल 0.46,  मेघालय 0.48, ओडिशा 0.51, गोवा 0.60, हिमाचल प्रदेश 0.75, बिहार 0.83, झारखंड 0.86, तेलंगाना 0.93 और उत्तराखंड में मृत्युदर 1.22 फीसदी दर्ज की गई है। इनके अलावा आंध्र 1.31, हरियाणा 1.35, तमिलनाडु 1.45, पुदुचेरी 1.48, चंडीगढ़ 1.71, जम्मू कश्मीर 1.79, राजस्थान 1.94, कर्नाटक 2.08 और यूपी में मृत्युदर 2.36 फीसदी है। 
10 लाख की आबादी पर 9730 की जांच

विभिन्न गणितीय मॉडल्स के आधार पर विशेषज्ञों के अनुसार फिलहाल महाराष्ट्र की स्थिति में कोई बदलाव दिखाई नहीं दे रहा है। प्रो. शमिका रवि ने अपने मॉडल्स के आधार पर इसकी पुष्टि भी की है। साथ ही उन्होंने बताया कि भारत में अब प्रति 10 लाख की आबादी पर 9730 लोगों की जांच हो रही है लेकिन ऐसा होने से संक्रमित मिलने वाले सैंपल की संख्या भी लगातार बढ़ रही है। उन्होंने बताया कि राजस्थान, जम्मू-कश्मीर, पंजाब, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश, और केरल में और भी ज्यादा जांच वृद्धि की दरकार है।

गुजरात में मृत्युदर विश्वस्तर से भी ज्यादा

विशेषज्ञों के अनुसार, भारत में वायरस से मौत दुनियाभर में मौतों से कम है। इसके विपरीत गुजरात एकमात्र ऐसा राज्य है जहां मृत्युदर वैश्विक आैसत से भी ज्यादा देखने को मिली है। जबकि महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, दिल्ली, पश्चिम बंगाल और पंजाब में मृत्युदर राष्ट्रीय औसत से अधिक है। 
 

पहली बार देश में कोरोना संक्रमण से मृत्युदर में गिरावट आई है। स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, मृत्युदर 2.5 फीसदी से कम दर्ज की गई है। शनिवार तक 26,816 लोगों की मौत हो चुकी है। संक्रमित मरीजों की संख्या 10.77 लाख से भी अधिक है। 

मंत्रालय ने रविवार को बताया, कोरोना से होने वाली मौतों की दर 2.49 फीसदी रिकॉर्ड की गई है। मंत्रालय के अनुसार 29 प्रदेश ऐसे हैं जहां मृत्युदर राष्ट्रीय औसत से कम है। इनमें से पांच राज्यों में मृत्युदर शून्य है। 14 राज्यों में एक फीसदी से भी कम है। मंत्रालय का कहना है कि संक्रमित मरीजों को बेहतर उपचार दिलाने में राज्य कामयाब हो रहे हैं। इसी वजह से हर दिन मृत्युदर में गिरावट आ रही है। 

मंत्रालय के अनुसार, मणिपुर, नगालैंड, सिक्किम, मिजोरम और अंडमान निकोबार द्वीप समूह में एक भी मौत नहीं हुई है। लद्दाख 0.09, त्रिपुरा 0.19,असम 0.23, दादरा और नगर हवेली 0.33, केरल 0.34,  छत्तीसगढ़ 0.46, अरुणाचल 0.46,  मेघालय 0.48, ओडिशा 0.51, गोवा 0.60, हिमाचल प्रदेश 0.75, बिहार 0.83, झारखंड 0.86, तेलंगाना 0.93 और उत्तराखंड में मृत्युदर 1.22 फीसदी दर्ज की गई है। इनके अलावा आंध्र 1.31, हरियाणा 1.35, तमिलनाडु 1.45, पुदुचेरी 1.48, चंडीगढ़ 1.71, जम्मू कश्मीर 1.79, राजस्थान 1.94, कर्नाटक 2.08 और यूपी में मृत्युदर 2.36 फीसदी है। 

Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

कोरोना: रूस ने नई एंटी वायरल दवा ‘कोरोनाविर’ को दी मंज़ूरी – BBC News हिंदी

4 घंटे पहलेइमेज स्रोत, Yuri Smityukरूस ने कोविड-19 के हल्के लक्षणों वाले मरीज़ों के लिए एक एंटी-वायरल दवा को मंज़ूरी दे दी है. इस...

कैबिनेट के फैसले : बिहार में 1429 पदों पर होगी भर्ती, 422 करोड़ रुपये से बनेगा फ्लाईओवर, नीतीश सरकार ने दी मंजूरी

स्वास्थ्य समेत विभिन्न विभागों में 1429 नये पदों के सृजन की मंजूरी शुक्रवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई राज्य कैबिनेट...