Advertisements
Home राज्यवार बिहार कोरोना का कहर: पटना पुलिस मुख्यालय के तीन डीएसपी, एक इंस्पेक्टर और...

कोरोना का कहर: पटना पुलिस मुख्यालय के तीन डीएसपी, एक इंस्पेक्टर और आठ जवानों को कोरोना – दैनिक भास्कर

Advertisements

पटनाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक
  • एम्स की आठ नर्सिंग छात्रा, तीन फैकल्टी और एक फिजियाेथेरेपिस्ट की रिपोर्ट पॉजिटिव
  • एक आईजी की तबीयत खराब, रामकृष्णानगर के एक जमादार भी संक्रमित

पटना में रविवार को 109 काेराेना मरीज मिले हैं। जिले में अबतक संक्रमितों की संख्या 3657 हो गई है। कोरोना के नोडल अफसर डॉ. एसपी विनायक ने कहा कि लाॅकडाउन और कंटेनमेंट जोन बनाने का असर दिख रहा है। पुलिस मुख्यालय के एक आईजी की तबीयत बिगड़ गई है। उनमें काेराेना के कुछ लक्षण हैं। उनके बाॅडीगार्ड पाॅजिटिव हाे गए।  पुलिस मुख्यालय में ही तैनात 3 डीएसपी, एक इंस्पेक्टर और सात जवान भी काेराेना के मरीज हाे गए। डीएसपी व जवान छापेमारी में गए थे। संभव है वे इसी दाैरान संक्रमित हुए हों। एक संक्रमित डीएसपी ने घर में सारी व्यवस्था कर ली, उन्हें एम्स में जगह नहीं मिली। वे डायबिटिक हैं। करीब 22 साल पहले उनका एक वाल्व भी बदला गया था।  इधर, रामकृष्णानगर थाना के एक जमादार भी पाॅजिटिव हाे गए हैं। रविवार काे एम्स में 42 नए संक्रमिताें काे एडमिट किया गया। इनमें एनएमसीएच के हड्डी विभाग के हेड, आरा के एक बड़े डाॅक्टर, महावीर वात्सल्य के पूर्व निदेशक भी संक्रमित हाे गए। इनके अलावा एम्स के नर्सिंग के तीन फैकल्टी, आठ नर्सिंग की छात्रा और एक फिजियाेथेरेपिस्ट भी संक्रमित हाे गए। सिविल सर्जन के मुताबिक रविवार को कंकड़बाग, कदमकुआं, कांटी फैक्ट्री, आशियाना, दीघा, एग्जीबिशन रोड, बोरिंग रोड, रामनगरी, राजेंद्रनगर, पटना सिटी आदि इलाकों में संक्रमित मिले हैं।

एग्जीबिशन रोड, बोरिंग रोड, राजेंद्रनगर, सिटी समेत कई इलाकों में नए केस

आईजीआईएमएस में भर्ती पटना के तीन मरीजों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। ये मरीज कार्डियोलॉजी, नेफ्रोलॉजी और जनरल मेडिसिन में भर्ती थे। इसके अलावा संस्थान के विभिन्न विभागों के चिकित्सकों की रिपोर्ट निगेटिव आई है। इनमें सात मरीज आईजीआईएमएस के हैं, जबकि सिविल सर्जन कार्यालय से भेजे गए सैंपल में 52 की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं पटना एम्स में सोमवार को मिले 42 मरीजों में 24 पटना के हैं। सभी बिहटा, बेउर, फुलवारीशरीफ, अगमकुआं, गुलजारबाग के रहने वाले हैं।

एनएमसीएच के टेक्नीशियन व जू. डॉक्टर समेत 20 स्टाफ संक्रमित

एनएमसीएच के जूनियर डॉक्टर और टेक्नीशियन समेत 20 स्टाफ संक्रमित हो गए हैं। संक्रमित होने वालों में एक जूनियर डॉक्टर, एक पीजी स्टूडेंट, दो टेक्नीशियन, एक गार्ड व अन्य स्वास्थ्यकर्मी शामिल हैं। कई स्वास्थ्यकर्मियों की रिपोर्ट का इंतजार हैं। इससे पहले भी अस्पताल के एक दर्जन से अधिक नर्स, कर्मी व जूनियर डॉक्टर संक्रमित हो चुके हैं। एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉ मुकुल कुमार सिंह ने बताया कि संक्रमिताें को आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर इलाज किया जाएगा।

कांटी थर्मल के डीजीएम व आरा के कारोबारी समेत 7 की मौत

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष डाॅ. संजय जायसवाल ने काेराेना काे मात दे दी। 5 दिन पहले वे एम्स में भर्ती हुए थे। हालांकि उनकी पत्नी व मां का अभी एम्स में इलाज चल रहा है। रविवार काे एम्स से 21 मरीजाें काे छुट्टी दे दी गई। इनमें 16 पटना के हैं। वहीं कांटी थर्मल पावर के डीजीएम जितेंद्र कुमार, आरा के बड़े काराेबारी अनिल कुमार जैन, लालजी टाेला पटना के नवल किशाेर प्रसाद और पूर्णिया के अब्दुल सलाम की माैत हाे गई।

एनएमसीएच में भर्ती तीन कोरोना पॉजिटिव मरीजाें की भी मौत हो गई। मृतकाें में पटेल नगर के 55 वर्षीय गोपाल रजक, मधेपुरा के 73 वर्षीय फूलो राम और मुजफ्फरपुर के 50 वर्षीय आनंद कुमार सिंह शामिल हैं। ये पहले से हार्ट, हाइपरटेंशन, डायबिटीज या टीबी के भी मरीज थे। एनएमसीएच में स्वस्थ हुए 18 काेराेना मरीजों को रविवार को छुट्टी दी गई।

0

Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

Jharkhand: कृषि बिल के खिलाफ कांग्रेस विधायक दीपिका सिंह ट्रैक्टर से पहुंची विधानसभा, पार्टी नेताओं के साथ दिया धरना

रवि सिन्हा, रांचीसंसद में पास हुए कृषि बिल के विरोध में कांग्रेस की ओर से देशभर में प्रदर्शन किया जा रहा है। रांची में...