Advertisements
Home राज्यवार दिल्ली दो निदेशक समेत चार लोगों पर 78.58 लाख की धोखाधड़ी का आरोप

दो निदेशक समेत चार लोगों पर 78.58 लाख की धोखाधड़ी का आरोप

Advertisements

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹249 + Free Coupon worth ₹200

ख़बर सुनें

गुरुग्राम। बादशाहपुर क्षेत्र में कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स की खरीद फरोख्त में कंपनी प्रबंधन ने दो निदेशक समेत चार लोगों के खिलाफ 78.58 लाख की धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। गुरुग्राम पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन का कहना है कि कंपनी प्रबंधन शिकायत पर जांच की जा रही है।
दिल्ली स्थित मैसर्स विक्ट्री इंफ्राएज प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की वरिष्ठ अधिकारी राशि मोंगा ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि 2017 में कंपनी के तत्कालीन निदेशक अजय कुमार व नवनीश चावला व एक अन्य रियल इस्टेट कंपनी के भूषण नागपाल व मनप्रीत सिंह मोंगा ने गुरुग्राम के बादशाहपुर में कॉमर्शियल प्रोजेक्ट की डील करवाई थी इसमें दावा किया गया कि प्रोजेक्ट के सभी दस्तावेज पूरे हैं जबकि डीटीसीपी से भी सभी अनुमति ले रखी है। इसके बदले 78 लाख 58 हजार 794 रुपये का भुगतान कर दिया गया।
कंपनी प्रबंधन का आरोप है कि आरोपियों ने बाद में लेआउट प्लान बदलकर निर्माण के लिए दबाव बनाया जिससे प्रबंधन ने इनकार कर दिया। दिसंबर 2019 में आरोपियों ने डील कैंसल करने का दबाव बनाया। शिकायत की प्राथमिक जांच के बाद बादशाहपुर थाना पुलिस ने चारों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।
बिना मास्क वालों से पुलिस ने वसूला 1.14 करोड़ का जुर्माना
गुरुग्राम। कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए मास्क की अनिवार्यता के बीच इसका उल्लंघन करने वालों से पुलिस ने 1.14 करोड़ का जुर्माना वसूला है। गुरुग्राम पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि थाना स्तर पर बिना मास्क लगाने वाले लोगों पर पुलिस कार्रवाई कर रही है। कोरोना संक्रमण के दौरान पुलिस ने पूरे जिले में प्रतिदिन बिना मास्क लगाए घूमने वाले लोगों पर कार्रवाई करती है। रिकॉर्ड के मुताबिक, पुलिस अब तक 22 हजार 916 लोगों के चालान काट चुकी है जिनसे 1 करोड़ 14 लाख 58 हजार रुपये जुर्माने के रूप में वसूले जा चुके है। इसके अलावा कई लोगों के खिलाफ मामला भी दर्ज किया जा चुका है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि घर से निकलने के बाद मास्क पहनकर निकलें। ब्यूरो

गुरुग्राम। बादशाहपुर क्षेत्र में कॉमर्शियल कॉम्प्लेक्स की खरीद फरोख्त में कंपनी प्रबंधन ने दो निदेशक समेत चार लोगों के खिलाफ 78.58 लाख की धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया है। गुरुग्राम पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन का कहना है कि कंपनी प्रबंधन शिकायत पर जांच की जा रही है।

दिल्ली स्थित मैसर्स विक्ट्री इंफ्राएज प्राइवेट लिमिटेड कंपनी की वरिष्ठ अधिकारी राशि मोंगा ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि 2017 में कंपनी के तत्कालीन निदेशक अजय कुमार व नवनीश चावला व एक अन्य रियल इस्टेट कंपनी के भूषण नागपाल व मनप्रीत सिंह मोंगा ने गुरुग्राम के बादशाहपुर में कॉमर्शियल प्रोजेक्ट की डील करवाई थी इसमें दावा किया गया कि प्रोजेक्ट के सभी दस्तावेज पूरे हैं जबकि डीटीसीपी से भी सभी अनुमति ले रखी है। इसके बदले 78 लाख 58 हजार 794 रुपये का भुगतान कर दिया गया।

कंपनी प्रबंधन का आरोप है कि आरोपियों ने बाद में लेआउट प्लान बदलकर निर्माण के लिए दबाव बनाया जिससे प्रबंधन ने इनकार कर दिया। दिसंबर 2019 में आरोपियों ने डील कैंसल करने का दबाव बनाया। शिकायत की प्राथमिक जांच के बाद बादशाहपुर थाना पुलिस ने चारों के खिलाफ धोखाधड़ी समेत अन्य धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

बिना मास्क वालों से पुलिस ने वसूला 1.14 करोड़ का जुर्माना
गुरुग्राम। कोविड-19 के संक्रमण से बचाव के लिए मास्क की अनिवार्यता के बीच इसका उल्लंघन करने वालों से पुलिस ने 1.14 करोड़ का जुर्माना वसूला है। गुरुग्राम पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकन ने बताया कि थाना स्तर पर बिना मास्क लगाने वाले लोगों पर पुलिस कार्रवाई कर रही है। कोरोना संक्रमण के दौरान पुलिस ने पूरे जिले में प्रतिदिन बिना मास्क लगाए घूमने वाले लोगों पर कार्रवाई करती है। रिकॉर्ड के मुताबिक, पुलिस अब तक 22 हजार 916 लोगों के चालान काट चुकी है जिनसे 1 करोड़ 14 लाख 58 हजार रुपये जुर्माने के रूप में वसूले जा चुके है। इसके अलावा कई लोगों के खिलाफ मामला भी दर्ज किया जा चुका है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि घर से निकलने के बाद मास्क पहनकर निकलें। ब्यूरो

Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

चार अक्टूबर को 97 केंद्रों पर होगी सिविल सर्विसेज परीक्षा

Publish Date:Sat, 19 Sep 2020 07:31 AM (IST) पटना। संघ लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित होने वाली सिविल सर्विसेज परीक्षा-2020 का आयोजन चार...

मुंबई फिल्म इंडस्ट्री को टक्कर, यहां बनने जा रही है देश की सबसे खूबसूरत फिल्म सिटी

लखनऊ: देश- दुनिया में सबसे बड़े हिंदी फिल्मोद्योग के रूप में प्रसिद्ध मुंबई से यह तमगा भविष्य में छिन सकता है. यूपी ने अब...