Advertisements
Home क्राइम सब्जी विक्रेता युवक का संदिग्ध हालत में मिला शव, हत्या की आशंका...

सब्जी विक्रेता युवक का संदिग्ध हालत में मिला शव, हत्या की आशंका – MP Breaking News

Advertisements

बालाघाट, सुनील कोरे

नगर के वार्ड नंबर 3 शांतिनगर निवासी 30 वर्षीय कमलेश उर्फ विक्की पिता किशोर मेश्राम का शव संदिग्ध हालत में कुम्हारी में सड़क से लगभग 100 मीटर दूर झाड़ियो में मिला। जिसके सिर और हाथ की हथेली पर किसी धारदार हथियार से चोट पहुंचाये जाने के निशान है, जिससे उसकी हत्या की आशंका जाहिर की जा रही है। हालांकि कोतवाली थाना प्रभारी मंशाराम रोमड़े का कहना है कि मामले में मर्ग कायम कर जांच की जा रही है, पीएम रिपोर्ट और विवेचना के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। उन्होंने मृतक के हथेली में धारदार हथियार जैसी किसी वस्तु से चोट पहुंचाये जाने का जिक्र करते हुए कहा कि जांच के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।
बताया जाता है कि युवक कमलेश उर्फ विक्की मेश्राम, अपनी मां के साथ सब्जी का व्यवसाय करता था। जो गत 4 अगस्त की शाम घर से निकलते समय आता हूं कहकर निकला था। जिसके बाद रात लगभग 9.30 बजे उसकी मां से आखिरी बार उसकी बात हुई थी, जब उसके घर नहीं लौटने पर मां ने उसको फोन लगाया था। जिसमें उसने कहा था कि वह बर्थ-डे पार्टी में है। जिसके बाद वह घर नहीं लौटा। जिसका आज सुबह शव कुम्हारी में घास लगे स्थल पर पेट के बल पड़ा मिला।
बताया जाता है कि शव शिनाख्ती के बाद घटनास्थल पहुंचे एएसआई एस.एस. धुर्वे ने पंचनामा कार्यवाही कर शव का पीएम के लिए जिला चिकित्सालय लाया। जहां पीएम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया। इस दौरान अपने इकलौते बेटे को खो देने वाली मां श्रीमती मेश्राम के आंखो के आंसु रूकने का नाम नहीं ले रहे थे। बताया जाता है कि युवक सब्जी व्यवसाय के साथ ही शराब को रोकने वालों के साथ भी काम करता था। बहरहाल इस मामले में अभी पुलिस ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया है।
मां ने जताई बेटे के हत्या की आशंका, लोकेश नाम के युवक पर जताया संदेह
अपने इकलौते युवा बेटे की मौत के बाद मां श्रीमती मेश्राम के आंखो के आंसु रूकने का नाम नहीं ले रहे थे। अन्य परिजनों और परिचितों ने उन्हें ढांढस बंधाने का प्रयास किया लेकिन मां हर बार अपने बेटे को याद करते हुए रो पड़ती थी। उसने बेटे कमलेश उर्फ विक्की की हत्या की आशंका जाहिर की। साथ ही उन्होने लोकेश नाम के युवक पर संदेह भी जाहिर किया। मां ने बताया कि गत 4 अगस्त को लोकेश नाम का युवक घर आया था, जो आते ही घर का गेट जोर से धकेलते हुए घर में घुसा, उस वक्त मैं कपड़ा सुखा रही थी और बेटा विक्की, घर के अंदर पलंग पर बैठकर मोबाईल चला रहा था। इस दौरान ही घर आये लोकेश जोर से बोलते हुए उसका पैंट मांग रहा था। इस दौरान जब बेटे ने उसे पेंट देने से मना किया तो उसने जोर चिल्लाते हुए कहा कि वह उसे देख लेगा। जिसके बाद वह चला गया ओर शाम को बेटा आता हूं कहकर घर से निकला था। मां ने बताया कि यह पहली बार नहीं है, इसके पहले ही लॉक डाउन में शैलेष ने घर आकर घर की चॉबी मांगने पर नहीं देने के दौरान भी बेटे से विवाद किया था। जिससे उसे अंदेशा है कि उसके बेटे को गुमराह कर ले जाया गया और उसकी हत्या कर दी गई।

इनका कहना है
सुबह कुम्हारी में युवक का शव मिलने की जानकारी पुलिस को मिली थी। जिसके बाद उसकी शिनाख्ती शांतिनगर निवासी विक्की मेश्राम के रूप में की गई। जिसके शव को पंचनामा कार्यवाही कर बरामद करने के बाद जिला चिकित्सालय लाया गया। जहां से पीएम करवाकर शव परिजनों को सौंप दिया गया है। मामले में मर्ग कायम कर जांच की जा रही है, जांच में जो भी तथ्य आयेंगे, उसके अनुसार कार्यवाही की जायेगी।
मंशाराम रोमड़े, थाना प्रभारी, कोतवाली थाना

Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

Covid-19 vaccine: ब्रिटेन की अनोखी पहल, दुनिया का पहला ‘मानव चैलेंज’ परीक्षण करेगा शुरू

ब्रिटेन दुनिया का पहला कोविड-19 मानव चैलेंज परीक्षण करने जा रहा है. जिसमें स्वस्थ वॉलेंटियर को जानबूझ कर कोरोना...