Advertisements
Home राज्यवार झारखण्ड गिरिडीह जिला बन सकता है राज्य का पहला सोलर सिटी, 150 करोड़...

गिरिडीह जिला बन सकता है राज्य का पहला सोलर सिटी, 150 करोड़ होंगे खर्च – NEWSWING

Advertisements

♦पांच जिलों के नाम पर किया जा रहा था विचार विमर्श

♦घरों में लगेंगे सोलर रूफ टॉप, वहीं कृषि क्षेत्रों को भी जोड़ा जायेगा

Ranchi : राज्य में एक जिला को सोलर सिटी बनाया जायेगा. ऐसा शहर जहां थर्मल बिजली की जगह सौर बिजली का अधिक इस्तेमाल किया जायेगा. केंद्रीय उर्जा मंत्रालय के इस आदेश के बाद जरेडा की ओर से पांच जिलों की सहमति बनी थी. जिसमें हजारीबाग, जमशेदपुर, धनबाद, बोकारो और गिरिडीह का चयन किया गया था. अब जरेडा की ओर से गिरिडीह जिला को इस काम के लिए लगभग फाइनल कर लिया गया है.

बस इसके लिए उर्जा विभाग की सहमति चाहिए. जिसके लिए जरेडा की ओर से उर्जा विभाग को पत्र लिखा गया है. पत्र में जरेडा की ओर से गिरिडीह जिला को सोलर सिटी बनाने की बात की गयी है. इसका खाका विभाग के समक्ष पेश किया गया है. उर्जा विभाग से सहमति के बाद जरेडा इस संबध में टेंडर निकालेगा. साथ ही राज्य को जल्द ही एक सोलर सिटी भी मिलेगी.

इसे भी पढ़ें –ASI हत्याकांड में गिरफ्तारी के विरोध में ग्रामीणों ने तुपुदाना ओपी का किया घेराव

150 करोड़ में बनेगा राज्य का पहला सोलर सिटी

योजना के अनुसार लगभग 150 करोड़ रूपये इसके लिए खर्च किये जायेंगे. सोलर सिटी के तहत चयनित जिला की सारी बिजली संबधी जरूरतें सौर उर्जा से पूरी की जायेंगी. योजना के तहत हर घर में रूफ टॉप सोलर पावर प्लांट लगाया जायेगा. जिसमें केंद्र सरकार और जरेडा दोनों का अंशदान होगा.

घरों के साथ ही हर क्षेत्र को इस योजना के तहत सौर उर्जा युक्त किया जायेगा. जिसमें फल, सब्जी फूलों के भंडारण के लिए कोल्ड स्टोरेज, हॉस्टल, लॉज शामिल हैं. बता दें कि राज्य में जरेडा की ओर से पहले ही कोल्ड स्टोरेज पर काम किया जा रहा है. जिसके तहत 24 जिलों में स्टोरेज का निमार्ण किया जाना है. सोलर सिटी योजना नयी होगी, लेकिन इसके तहत मिलने वाली सुविधाएं पुरानी योजनाओं से ही जुड़ी होंगी.

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में दिया गया था जोर

पिछले दिनों केंद्रीय उर्जा मंत्रालय ने इसकी सहमति भी दी थी. वहीं मुख्यमंत्री के साथ हुए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में मंत्रालय ने इस बात पर बल दिया. राज्य में सोलर सिटी बनाने का काम झारखंड रिन्यूएबल एनर्जी डेवलपमेंट एजेंसी की ओर से की जायेगी.

राज्य में रिन्यूएबल एनर्जी के कार्यों के लिए जरेडा नोडल एजेंसी है. ऐसे में उर्जा विभाग की सहमति के बाद जरेडा इसपर काम शुरू करेगी. देशभर में अब नौ शहरों को सोलर सिटी बनाया जा चुका है.

इसे भी पढ़ें –तो क्या मोदी सरकार में सबसे विश्वसनीय इंश्योरेंस कंपनी LIC भी खतरे में आ गयी है!



Source link

Advertisements

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Advertisements

लोकप्रिय

शुगर का ज्यादा इस्तेमाल पहुंचा सकता है शरीर को नुकसान, जानें क्या है इसके संकेत

नई दिल्लीः आज के वर्तमान दौर में देश के साथ ही साथ विदेशों में खानपान में शुगर लेवल का...

भारत में 14 अक्टूबर को लॉन्च होगा OnePlus 8T, इस फोन से होगी सीधी टक्कर

भारत में OnePlus 8T को लॉन्च करने की डेट 14 अक्टूबर रखी गई है. चीनी कंपनी ने सोमवार को...